स्वर्ग में जाने के बाद क्या होता है?

सच तो यह है कि आत्मा कभी भी नष्ट नहीं होती है वह शरीर को छोड़कर जाती है और उसके कर्मों के अनुसार धर्मराज के दरबार में उसका हिसाब उसका लेखा-जोखा होता है। फिर वह स्वर्ग और नर्क में अपने कर्म भोग कर फिर वापस 8400000 योनियों में आ जाती है। हमें 8400000 योनियों के बाद एक बार मनुष्य जन्म प्राप्त होता है

Leave a Comment